Latest 2 Line Shayari Two Line Shayari – Aashish Kureshi

Latest 2 Line Shayari

चल चाँद पिघलाकर सूरज बनाते है
दुनिया को अपना हुनर दिखलाते है

हार-जीत, नफा-नुकसान का मैं क्या करता
मैंने तो वो किया, जो बंदा खुदा का करता

हमें पता था वो खुशियों पर अपना हक जताएंगे
चलो हम गम को पालकर किसी लायक बनायेंगे

वो जुर्म करता है, फिर मलाल दिखाता है
खंजर साफ़ रखता है, क़त्ल हलाल दिखाता है

हम तुम दफ़न हो जायेंगे दोनों
फिर मिलेंगे एक दिन मिटटी होकर 

किसी का हुनर कोई क्या छिपाएगा
जो दरिया होगा, पहाड़ो से उतर जायेगा

ना वो हिन्दू है, ना वो मुस्लिम है, न वो किसी का रकीब है
उसे रात के खाने की फ़िक्र है जनाब, वो महज गरीब है 

मोहब्बत का ये खेल उसे आया ही नहीं
वो रूठा भी नहीं, उसने मनाया भी नहीं

Two Line Shayari Collections Hindi – Top 50 2 Line Hindi Font Shayari 2018

Read Also Here Some Best

2 line Shayari |  2 line love Shayari  | 2 Line Sad Shayari 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Comments

comments

You Like This Post- Write Yes is the Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.