2 Line Romantic Shayari Two Line Romantic Status New Romantic 2018
Loading...

2 Line Romantic Shayari Two Line Romantic Status New Romantic 2018

Loading...

2 Line Romantic Shayari

हमने भी जाने क्या ये अजब तमाशा देखा…
गुलाबों वाले हाथों में काँटों का चमन देखा…!!

दूर मंज़िल की चाह में खो इस कदर गयी हूँ,
कि ना अब वक़्त है और ना ही सकून…!!!

वो तेरा गम था कि तासीर मेरे लहजे की,
कि जिसको हाल सुनाती थी रुला देती थी…

मोहब्बत के काफिले को कुछ देर तो रोक लो,
आते हैं हम भी पाँव से कांटे निकाल कर ….

अपने आप से बस ये गिला रहा
तेरे बाद भी तेरी यादों का सिलसिला रहा…।।

इतनी नाराज़गी भी बेहतर नही कि…
दिल टूट जाए किसी का बेरुखी से…!!

न जाने आईने पर औस थी या,
हमारी आँखें गीली थीं…!!

We r Social

|Facebook| |PinterestTwitter | Instagram | YouTube | Google+ |

वो याद आये कुछ यूँ कि लौट आये सब सिलसिले …
ठंडी हवा सब्ज पत्ते और दिसम्बर के ये दिन

हम से बिछड़ कर उन आँखों से एक बूँद तक न निकली ,
तमाम उम्र हम जिन आँखों को झील कहते थे ।।।।।

उसने कहा बिखरे बिखरे से लगते हो तुम…
मैंने कहा खुशबू हूँ बिखरना रवायत है मेरी…!!

एक ही ख़्वाब ने सारी रात जगाया है
मैंने हर करवट सोने की कोशिश की है

यूँ गुमसुम मत बैठो पराये से लगते हो ..
मीठी बातें नहीं करना है तो चलो झगड़ा ही कर लो

न जाने कितने दिलों को जोड़ देगा सदा के लिए…!!!
डाली से टूटकर आज फूल गुलाब का…!!

मुस्कुरा जाता हूँ, अक्सर गुस्से में भी तेरा नाम सुन कर,
तेरे नाम से इतनी मोहब्बत है, तो सोच तुझसे कितनी होगी…..!!!!!

मेरी खुशियाँ ही ना बांटे, मेरे गम भी सहना चाहे,
देखे ना ख्वाब वो महलों के, मेरे दिल में रहना चाहे !!

खता उनकी भी नही यारो वो भी क्या करते,
बहुत चाहने वाले थे किस किस से वफ़ा करते !!

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Comments

comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *