Two line Hindi Sad Shayari – Latest Hindi Sad Shayari – Sad Shayari

Hindi Sad Shayari – Best Hindi Shayari Here are You Can Read 2 line Shayari Life Hindi Font  New Punjabi Sad Shayari 2017 2 Line Love Shayari – You Can Also Read Here Top 20 Attitude Shayari and 2 Line Sad Shayari– We Have Shayari on Life, Romantic Shayari Heart Touching Shayari – Dil- Dosti – Dard – Friendship Shayari –New Punjabi Sad Shayari 2017 Here we have 2 Line Shayari with Beautiful Images

 

हमें देख कर जब उसने मुँह मोड़ लिया | हिन्दी शायरी |

एक तसल्ली हो गयी चलो पहचानते तो हैं 

 

अब दर्द उठा है तो गज़ल भी है जरूरी  | हिन्दी शायरी |

पहले भी हुआ करता था इस बार बहुत है 

 

यह भी एक ज़माना देख लिया है हम ने  | हिन्दी शायरी |

दर्द जो सुनाया अपना तो तालियां बज उठीं 

 

मंजिलों से बेगाना आज भी सफ़र मेरा  | हिन्दी शायरी |

है रात बेसहर मेरी दर्द बेअसर मेरा 

 

दर्द का मेरे यकीं आप करें या ना करें  | हिन्दी शायरी |

इल्तिजा है कि इस राज़ का चर्चा ना करें 

 

तू है सूरज तुझे मालूम कहाँ रात का दर्द  | हिन्दी शायरी |

तू किसी रोज मेरे घर में उतर शाम के बाद 

 

तोड़ दिए मैंने घर के आईने सभी  | हिन्दी शायरी |

प्यार में हारे हुए लोग मुझसे देखे नहीं जाते 

 

इस तरह मेरी तरफ मेरा मसीहा देखे  | हिन्दी शायरी |

दर्द दिल में ही रहे और दवा हो जाए 

 

जिंदगी को मिले कोई हुनर ऐसा भी  | हिन्दी शायरी |

सबमे मौजूद भी हो और फना हो जाए 

 

कौन तोलेगा हीरों में अब तुम्हारे आंसू फ़राज़  | हिन्दी शायरी |

वो जो एक दर्द का ताजिर था दुकां छोड़ गया 

2 Line Hindi Sad Shayari

एक नफरत ही नहीं दुनिया में दर्द का सबब फ़राज़  | हिन्दी शायरी |

मोहब्बत भी सुकून वालों को बड़ी तकलीफ देती है 

 

कौन कहता है मोहब्बतों में दर्द है फ़राज़  | हिन्दी शायरी |

कुछ मोहब्बतें भो बड़ी अज़ीयतनाक होती हैं 

 

तन्हाइयों के दर्द से खूब वाकिफ था वो फ़राज़  | हिन्दी शायरी |

फिट भी दुनिया में मुझे तनहा बनाया उसने 

 

ज़िक्र उस का ही सही बज़्म में बैठे हो फ़राज़  | हिन्दी शायरी |

दर्द कैसा भी उठे हाथ न दिल पर रखना 

 

कौन देता है उम्र भर का सहारा फ़राज़  | हिन्दी शायरी |

लोग तो जनाज़े में भी कंधे बदलते रहते 

 

बे-जान तो मैं अब भी नहीं फ़राज़  | हिन्दी शायरी |

मगर जिसे जान कहते थे वो छोड़ गया 

 

ज़माने के सवालों को मैं हँस के ताल दूं फ़राज़  | हिन्दी शायरी |

लेकिन नमी आँखों की कहती है मुझे तुम याद आते हो 

 

हसीं यादों के कुछ मौसम उसे अरसाल करने है फ़राज़  | हिन्दी शायरी |

सुना है शब को तन्हाई उसे सोने नहीं देती 

 

अब उसे रोज सोचो तो बदन टूटता है फ़राज़  | हिन्दी शायरी |

उम्र गुजरी है उसकी याद नशा करते करते 

 

कोई मुन्तजिर है उसका कितनी शिद्दत से फ़राज़  | हिन्दी शायरी |

वो जानता है पर अनजान बना रहता है 

Two Line Hindi Sad Shayari

हम अपनी रूह तेरे जिस्म में ही छोड़ आये फ़राज़  | हिन्दी शायरी |

तुझसे गले लगाना तो बस एक बहाना था 

 

मेरे जज़्बात से वाकिफ है मेरा कलम फ़राज़  | हिन्दी शायरी |

मैं प्यार लिखूं तो तेरा नाम लिख जाता है 

 

ये वफ़ा तो उस वक्त की बात है ऐ फ़राज़  | हिन्दी शायरी |

जब मकान कच्चे और लोग सच्चे हुआ करते थे 

 

वो मेरी पहली मोहब्बत वो मेरी पहली शिकस्त  | हिन्दी शायरी |

फिर तो पैमाने-वफ़ा सौ मर्तबा मैंने किया 

 

क्यों उलझता रहता है तू लोगों से फ़राज़  | हिन्दी शायरी |

ये जरूरी तो नहीं वो चेहरा सभी को प्यारा लगे 

 

इश्क़ में मेरा इस कदर टूटना तो लाजमी था  | हिन्दी शायरी |

काँच का दिल था और मोहब्बत पत्थर से की थी 

 

ख्वाहिशें थीं चाँद तारे तोड़ लाने की मगर  | हिन्दी शायरी |

देख लो बिखरा पड़ा है वो जमीं पर टूट कर 

 

ऐसा तल्ख़ जवाबे-वफ़ा पहली ही दफा मिला  | हिन्दी शायरी |

हम इस के बाद फिर कोई अरमां न कर सके 

 

मालूम जो होता हमें अंजाम-ए-मोहब्बत  | हिन्दी शायरी |

लेते न कभी भूल के हम नाम-ए-मोहब्बत 

 

टूटा तिलिस्म-ए-अहद-ए-मोहब्बत कुछ इस तरह  | हिन्दी शायरी |

फिर आरज़ू की शमा फ़ुरेज़ाँ न कर सके 

2 Lines Hindi Sad Shayari

 

मेरे हाथों से मेरी तकदीर भी वो ले गया  | हिन्दी शायरी |

आज अपनी आखिरी तस्वीर भी वो ले गया 

 

मुझको तो होश नहीं तुमको खबर हो शायद  | हिन्दी शायरी |

लोग कहते हैं कि तुमने मुझे बर्बाद कर दिया 

 

हमारा ज़िक्र छोड़ो हम ऐसे लोग हैं कि जिन्हे  | हिन्दी शायरी |

नफरत कुछ नहीं करती मोहब्बत मार देती है 

 

मेरे दिल की उम्मीदों का हौसला तो देखो  | हिन्दी शायरी |

इंतज़ार उसका है जिसे मेरा एहसास तक नहीं 

 

आधी से ज्यादा शबे-ग़म काट चुका हूँ  | हिन्दी शायरी |

अब भी अगर आ जाओ तो ये रात बड़ी है 

 

बस यूँ ही उम्मीद दिलाते हैं ज़माने वाले  | हिन्दी शायरी |

कब लौट के आते हैं छोड़ कर जाने वाले 

 

दिल जलाओ या दिए आँखों के दरवाज़े पर  | हिन्दी शायरी |

वक़्त से पहले तो आते नहीं आने वाले 

 

रात भर जागते रहने का सिला है शायद  | हिन्दी शायरी |

तेरी तस्वीर सी महताब में आ जाती है 

 

न कोई वादा न कोई यक़ीं न कोई उम्मीद  | हिन्दी शायरी |

मगर हमें तो तेरा इंतज़ार करना था 

 

कासिद पयामे-शौक को देना बहुत न तूल  | हिन्दी शायरी |

कहना फ़क़त ये उनसे कि आँखें तरस गयीं 

 

We R Social Follow Us On

|Facebook| |PinterestTwitter | Instagram | YouTube | Google+ |

 

Two Line Hindi Sad Shayari

यकीन है कि ना आएगा मुझसे मिलने कोई  | हिन्दी शायरी |

तो फिर इस दिल को मेरे इंतज़ार किसका है 

 

एक आरज़ू है अगर पूरी परवरदिगार करे  | हिन्दी शायरी |

मैं देर से जाऊं और वो मेरा इंतज़ार करे 

 

निगाहों में कोई भी दूसरा चेहरा नहीं आया  | हिन्दी शायरी |

भरोसा ही कुछ ऐसा था तुम्हारे लौट आने का 

 

कमाल-ए-इश्क़ तो देखो वो आ गए लेकिन  | हिन्दी शायरी |

वही है शौक़ वही इंतज़ार बाक़ी है 

 

ये इंतज़ार सहर का था या तुम्हारा था  | हिन्दी शायरी |

दिया जलाया भी मैंने दिया बुझाया भी 

 

मुद्दत हुई पलक से पलक आशना नहीं  | हिन्दी शायरी |

क्या इससे अब ज्यादा करे इंतज़ार चश्म 

 

कुछ कर अब मेरा भी इलाज ऐ हकीम-ए-मुहब्बत  | हिन्दी शायरी |

हर रात वो याद आता है और मुझसे सोया नहीं जाता 

 

कुछ नये सपने उसी के देखना है फिर मुझे  | हिन्दी शायरी |

सो गया हूँ मैं बहा कर जिसकी यादें आँख से 

 

तड़प रहीं हैं मेरी साँसें तुझे महसूस करने को  | हिन्दी शायरी |

खुशबू बनके बिखर जाओ तो कुछ बात बने 

 

कभी याद आती है कभी उनके ख्वाब आते हैं  | हिन्दी शायरी |

मुझे सताने के सलीके तो उन्हें बेहिसाब आते हैं 

Beautiful Hindi Sad Shayari

तेरी यादों का जहर फैल गया है दिल में  | हिन्दी शायरी |

मैंने बहुत देर कर दी है तुझे भुलाने में 

 

हिचकियाँ दिलाकर हमारी उल्फत क्यूँ बढ़ा रहे हो  | हिन्दी शायरी |

बस इतना बता दो याद कर रहे हो या याद आ रहे हो 

 

अगर आँसू बहा लेने से यादें बह जाती  | हिन्दी शायरी |

तो एक ही दिन में हम तेरी याद मिटा देते 

 

याद आते हैं तो कुछ भी नहीं करने देते  | हिन्दी शायरी |

आप की यही बात बहुत बुरी लगती है 

 

भूल जाना उसे मुश्किल तो नहीं है लेकिन  | हिन्दी शायरी |

काम आसान भी हमसे कहाँ होते हैं 

 

कहीं ये अपनी मोहब्बत की इंतहा तो नहीं  | हिन्दी शायरी |

बहुत दिनों से तेरी याद भी नहीं आई 

 

कभी यूँ भी हो कि बाज़ी पलट जाए सारी  | हिन्दी शायरी |

उसे याद सताए मेरी और मैं सुकून से सो जाऊं 

Hindi Sad Shayari Latest

किस जगह रख दूँ मैं तेरी याद के चराग़ को  | हिन्दी शायरी |

कि रोशन भी रहूँ और हथेली भी ना जले 

 

थक गया है दिल-ए-वहशी मेरा फ़रियाद से भी  | हिन्दी शायरी |

जी बहलता नहीं ऐ सनम तेरी याद से भी 

 

जिन की यादों से रोशन हैं मेरी आँखें  | हिन्दी शायरी |

दिल कहता है उन को भी मैं याद आता हूँ 

 

उसकी याद आई है साँसों जरा अहिस्ता चलो  | हिन्दी शायरी |

धडकनों से भी इबादत में खलल पड़ता है 

 

बिछड़ी हुई राहों से जो गुजरे हम कभी  | हिन्दी शायरी |

हर मोड़ पर खोयी हुई एक याद मिली है 

 

 

Spread the love
  • 29
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    29
    Shares

Comments

comments

You Like This Post- Write Yes is the Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.